Home Health Tips Discover the “common types of heart diseases “ – दिल की सामान्य...

Discover the “common types ofheart-disease “ – दिल की सामान्य बीमारियां

दिल की बीमारियां कई तरह की होती हैं। कई लोग पैदा ही इस बीमारी के साथ होते हैं, वहीँ दूसरी तरफ ज़्यादातर लोगों को यह बीमारी समय के साथ प्रभावित करती है। दिल की बीमारियां काफी घातक होती हैं क्योंकि ये काफी देर में विकसित होती हैं तथा लोगों को काफी दोनों तक इसका पता भी नहीं चलता। ज़्यादातर दिल की बीमारियों का कारण रक्त की धमनियों, जो दिल में रक्त का संचार करती हैं, का अत्याधिक वसा और कोलेस्ट्रोल (cholesterol) की वजह से बंद होना होता है। ये लक्षण बताएंगे दिल की बीमारी है या नहीं। अगर धमनियों का अंदरूनी भाग प्लाक (plaque) की वजह से पतला हो जाए तो रक्त का थक्का जम जाता है और इस वजह से धमनियों के द्वारा थोड़ी मात्रा में ही रक्त का संचार हो पाता है। इस स्थिति को एथेरोसक्लेरोसिस (atherosclerosis) या धमनियों का कड़ा होना कहा जाता है। दिल में रक्त का संचार पर्याप्त मात्रा में ना हो पाने से दिल के दौरे की संभावना बढ़ जाती है, जबकि मस्तिष्क में रक्त का संचार ठीक से ना हो पाने की स्थिति में सेरेब्रोवैस्कुलर दौरे (cerebrovascular attack) का ख़तरा काफी बढ़ जाता है।

 

धमनियों की कोरोनरी बीमारी (Coronary Artery Disease)

कोरोनरी धमनियों में ब्लॉकेज (blockage) की स्थिति को कोरोनरी आर्टरी डिसीज़ कहते हैं। इस स्थिति के अंतर्गत दिल की मांसपेशियों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन (oxygen) प्राप्त नहीं होता है। इस तरह की बीमारी में बिना किसी पूर्वाभास के मृत्यु की भी संभावना होती है। इस खतरे के शिकार वे सभी होते हैं जिन्हें दिल की किसी ना किसी बीमारी ने घेरा हुआ है।

कोरोनरी आर्टरी डिसीज़ के प्रकार (Types of Coronary artery disease)

इस्केमिया (Ischemia)

धमनियों से जुड़ी दिल की इस बीमारी में दिल की मांसपेशियों की तरफ रक्त का प्रवाह काफी कम हो जाता है, पर इस स्थिति में आपको ना कोई दर्द महसूस होता है और ना ही किसी प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं। जो भी थोड़ी बहुत परेशानी होती है, वह व्यायाम करते समय ही होती है।

एन्जिना पेक्टोरिस (Angina pectoris)

ये लक्षण बताएंगे दिल की बीमारी है या नहीं। छाती, पीठ, हाथ या जबड़े में दर्द या किसी प्रकार का दबाव महसूस होना भी इस बात की ओर इशारा करता है कि आपके दिल की मांसपेशियां पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन (oxygen) ग्रहण नहीं कर पा रही हैं। एन्जिना धमनियों के पतले होने या दिल की नसों के अंदर की मांसपेशियों में अकड़न उत्पन्न होने के कारण भी हो सकता है। इस अकड़न के पैदा होने का कारण धूम्रपान, ठन्डे तापमान में निवास, संवेदनशीलता में इज़ाफ़ा या इसके अलावा भी कुछ हो सकता है। यह बात जाननी काफी आवश्यक है कि एन्जिना दिल की कोई समस्या नहीं है और इससे आमतौर पर दिल को कोई स्थाई नुकसान नहीं पहुंचता। हालांकि इससे एक्ने (acne) की समस्याओं में इज़ाफ़ा अवश्य होता है। एन्जिना से होने वाले दर्द को दिल में सही मात्रा में ऑक्सीजन का संचार करके या दिल के लिए ऑक्सीजन की ज़रुरत में कमी करके कम किया जा सकता है।

 

एन्जिना (Angina)

एन्जिना की स्थिति में आपको काफी परेशानी तथा दर्द का भी सामना करना पड़ता है। यह इस बात का संकेत है कि आपके दिल को पोषक पदार्थों के अलावा पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन प्राप्त नहीं हो पा रहा। एन्जिना के मुख्य कारण एथेरोक्लेरोसिस या दिल की धमनियों में अकड़न (coronary artery spasm) होते हैं। जब कोई व्यक्ति इस समस्या का शिकार होता है तो उसका दिल सामान्य से ज़्यादा काम करने लगता है। इस समय दिल भोजन के बाद तथा शारीरिक और मानसिक तनाव के दौरान ज़्यादा काम करता है। आपके आराम करते समय भी आपका दिल काम करते रहता है। आमतौर पर एन्जिना छाती में मुख्य रूप से पैदा होता है, तथा इसके बाद बाएं हाथ से नीचे जाता है। इसके अलावा इस स्थिति में आपको कन्धों, पीठ के ऊपरी हिस्सों, दोनों हाथों, गले और जबड़े में भी पीड़ा महसूस हो सकती है।

 

एन्जिना के लक्षण (Signs or symptoms of Angina)

  • दर्द, अंगों का सुन्न पड़ जाना तथा थोड़ी सी गुदगुदी
  • तेज़ दर्द
  • मरोड़ें (Cramping)
  • सांस लेने में तकलीफ होना
  • काफी मात्रा में पसीना निकालना और चक्कर आना
  • सीना भारी होना और दिल में तकलीफ
  • छाती में सिकुड़न का अहसास।
  • इन लक्षणों को देखने पर व्यायाम छोड़कर बैठ या लेट जाएं और शरीर को ढीला छोड़ दें।

अगर ये लक्षण बार बार दिखने लगें तो डॉक्टर से अवश्य सलाह करें।.

Similar articles

Leave a Reply