Home ALSI अलसी के बीज से बालों को बनायें घना और चमकीला

अलसी के बीज से बालों को बनायें घना और चमकीला
ALSI
अलसी का सेवन बनाता है बालों को स्वस्थ और मजबूत।
ओमेगा-3 और एंटीऑक्सीडेंट्स बढ़ाते है बालों की चमक।
इसके सेवन के साथ भरपूर मात्रा में पीना चाहिए पानी।
अलसी के बीज को भूनकर भी खाया जा सकता है।

अलसी में विटामिन बी, कैल्शियम, मैग्नीशियम, कॉपर, आयरन, जिंक, पोटैशियम, केरोटिन, थायमिन, राइबोफ्लेविन और नियासिन जैसे खनिज लवण होते हैं। इसके तेल में 36 से 40 प्रतिशत ओमेगा-3 होता है। यह बालों के विकास और उनको हेल्‍दी रखने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। अलसी में पाये जाने वाले ओमेगा-3 बालों को स्‍वस्‍थ, चमकदार व मजबूत बनाते हैं। अलसी खाने वालों को कभी रूसी नहीं होती। अलसी में अधिक फाइबर होता है, जिससे प्यास ज्यादा लगती है। आइए विस्‍तार से चर्चा करते हैं, आखिर यह बालों के लिए कितना फायदेमंद है।

बालों के लिए असली

अलसी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स रक्त को शुद्ध करते हैं, त्वचा तथा बालों को चमक देते हैं। ये शरीर की कई रोगों से सुरक्षा भी करते हैं।अलसी के बीजों में विटामिन्स तथा प्रोटीन्स प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं। प्रोटीन्स शरीर के सही विकास में सहायक होते हैं। अलसी को सूखी कढ़ाई में डालिये, रोस्ट कीजिये (अलसी रोस्ट करते समय चट चट की आवाज करती है) और मिक्सी से पीस लीजिये। इन्हें थोड़े दरदरे पीसिये, एकदम बारीक मत कीजिये। भोजन के बाद सौंफ की तरह इसे खाया जा सकता है। लेकिन आप इसे जादा मात्रा में बना के न रखे क्योंकि ये खराब हो जाती है। एक हफ्ते के लिए बनाना ही चाहिए। अलसी आपको अनाज बेचने वाले तथा पंसारी या आयुर्वेदिक जड़ी बूटी बेचने वालो के यहाँ से मिल जायेगी।

आहार मे शामिल करें अलसी

आप अलसी के पाउडर को फलों के रस में मिलाकर भी ले सकते हैं। इसके लिए आप एक गिलास जूस यानी 150 मिलीलीटर में एक चम्‍मच अलसी पाउडर को मिला सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्‍यान रखें कि सात दिन से ज्यादा पुराना पीसा हुआ पाउडर प्रयोग न करें। इसको एक साथ पीसने से तिलहन होने के कारण खराब हो जाता है। अधिकांश लोगों को सादी अलसी खाना पसंद नहीं होता है, ऐसे में आप अलसी को भूनकर इसका सेवन कर सकते हैं। ऐसा करना न केवल अलसी को स्‍वादिष्‍ट बल्कि कुरकुरा स्‍वाद भी देता हैं।अलसी का सेवन चाय के रूप में भी किया जा सकता है। अलसी की चाय बनाने के लिए एक चम्मच अलसी पावडर को दो कप (360 मिलीलीटर) पानी में तब तक धीमी आंच पर पकाएं जब तक यह पानी एक कप न रह जाए। थोड़ा ठंडा होने पर शहद, गुड़ या शकर मिलाकर पीये।

कुछ लोगों ऐसा कहते है कि अलसी गर्म होती है इसलिए गर्मी के मौसम में इसका सेवन नहीं करना चाहिए।परंतु ऐसा नहीं है ,अलसी को आप किसी भी मौसम में खा सकते हैं यह गर्म नहीं होती है।.

Leave a Reply